Thursday, 22 April 2010

Aakhir khyun


क्यूँ ऐसे लोग भी होते हैं जिन्हें कभी किसी की फिक्र नहीं,
और नहीं मानते कभी वो औरों की भी कही बातों को सही.

हर वक्त, हर दम बस ढूँढा करते हैं वो औरों की ख़ामिया,
और नहीं देखते हैं की उनके अन्दर हैं कितनी कमियां,

क्यूँ करते हैं बातें वो जो शूल सी दिल को चुभती हैं,
और लाती हैं रिश्तों में सिर्फ हमेशा के लिए दूरियां.

और ऐसे ही रिश्तों में दूरी या कोई दरार जब आती है,
तो कुछ भी कहने या सुनने की मुश्किल सी हो जाती है.

काश की वो समझें इस दुनिया की उस पुरानी रीत को,
जो बोता है, वही पाता है, तेरा किया तेरे आगे आता है.



This sketch is made on a normal A4 size paper with 2b pencil and highlights with eraser.

Hope u all like.
Stay happy and stay together!!!!

2 comments:

  1. Yeah, one gets what one gives......also reacting & being happy is in our own hands..its our will and wish to remain cool and calm and be Happy Always...come what may!

    Cheers - to Life!

    ReplyDelete
  2. Your blog is cool. To gain more visitors to your blog submit your posts at indli.com

    ReplyDelete

AddThis

Bookmark and Share
Related Posts with Thumbnails
 

blogger templates | Make Money Online